ई-मित्र ने बदली एस एम एस हॉस्पिटल की लंबी लाइनों की सूरत

hindi-blog-1

अपनी माँ को परेशानी में देखना किसी को अच्छा नहीं लगता| और खासकर जब लाख कोशिशों के बावजूद आप उनके लिए कुछ नहीं कर पा रहे हों|

मेरी माताजी को मधुमेह की बीमारी है और हर महीने उन्हें चेक-अप के लिए जयपुर के एस एम एस हॉस्पिटल ले जाना पड़ता है| झुंझुनू से जयपुर का रास्ता आसान नहीं है और वहाँ जाकर ओ पी डी रजिस्ट्रेशन कार्ड बनवाने के लिए इंतेज़ार भी करना पड़ता था| कभी-कभार तो माँ जाने के लिए मना कर देती थीं|

कुछ दिन पहले मुझे पता चला कि राज्य सरकार ने ई-मित्र के ज़रिये भी एस एम एस हॉस्पिटल के आउट पेशेंट डिपार्टमेंट के लिए रजिस्ट्रेशन कार्ड बनवाना शुरू कर दिया है| इसके लिए सरकार ने राज्य के सूचना एवं प्रसारण विभाग की सहायता ली है|

राज्य सरकार के इन प्रबंधों के कारण अब मरीज़ों को लंबी पंक्तियों में खड़े होकर इंतेज़ार करने की आवश्यकता नहीं है| ई-मित्र के ज़रिये उन्हें आसानी से सरकारी हॉस्पिटल का रजिस्ट्रेशन कार्ड मिल जाता है| कार्ड लेने के बाद मरीज़ सीधे अस्पताल जाकर चिकित्सकों से परामर्श और उपचार ले सकते हैं|

अब मैं हर महीने ई-मित्र कियोस्क जाकर एस एम एस हॉस्पिटल का रजिस्ट्रेशन कार्ड बनवाता हूँ और अपनी माँ को सुविधापूर्वक अस्पताल ले जाता हूँ| मेरी माँ का शुगर अब कण्ट्रोल में है और वे पहले से कई ज़्यादा स्वस्थ हैं|

ई-मित्र सचमुच हम ग्रामीणों के जीवन में अप्रत्याशित बदलाव लेकर आया है|

Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s